यक़ीन करो मेरा, लाख कोशिशें कर चुका हूँ मैं,
ना सीने की धड़कन रुकती है ना तुम्हारी यादे…!!
————————————————–
हम तो जल गये तेरी मोहब्बत में मोम की तरह,
अगर फिर भी हम बेवफा है तो तेरी वफा को सलाम…!!
————————————————–
ना तस्वीर है उसकी जो दिदार किया जाऐ,
ना पास है वो जो उससे प्यार किया जाऐ,
ये कैसा दर्द दिया उस बेदर्द ने,
ना उससे कुछ कहा जाऐ..ना उसके बिन रहा जाऐ…!!
————————————————–
मौत भी मुझे गले लगाकर
वापिस चली गई, बोली
तुम अभी नही मरोगे प्यार
किया है ना, अभी और तडपोगे
————————————————–
मतकरो विश्वास किसी का,
आजत़क तो लोग अपने फायदे के लिये माफि भी मांग लेते है…!!http://www.whatsappshayari.com

1 thought on “यक़ीन करो मेरा, लाख कोशिशें कर चुका हूँ मैं…

  1. दिल तोडना हमारी आदत नहीं, दिल हम किसी का दुखाते नहीं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *