Hindi Whatsapp Shayari…

“उम्मीदों” से बंधा, एक जिद्दी परिंदा है इंसान, जो घायल भी “उम्मीदों” से हे और, जिन्दा भी “उम्मीदों” पर  हैं…!! ——————————————— उन्होंने तो हमें धक्का दिया था डुबाने के इरादे से, अंजाम ये निकला हम तैराक बन गए…!! ——————————————— कुछ नहीं मिलता दुनिया में मेहनत के बगैर, मेरा अपना साया भी धूप में आने से मिला !! ——————————————— सबको फिक्र […]