Whatsapp Chahat shayari in hindi

यह कैसी लगन तुने हम को लगा दी है, सौचा था प्यास बुझेगी तुने और बढ़ा दी है…!! ————————————————- बस अब आखरी काम ये कर जाना है, किसी की यादों में आकर मुस्कुराना है…!! ————————————————- महोब्बत नही एक शख्स चाहिए, तुझ सा नही सिर्फ तू चाहिए…!! ————————————————- मत गुजारना मेरे जनाजे को उसकी गली से मेरे भाइयों, साँसे दोबारा न […]

मरते होंगे लाखों तुझ पर, पर हम तो तेरे साथ मरना चाहते है…

मरते होंगे लाखों तुझ पर, पर हम तो तेरे साथ मरना चाहते है…!! ————————————————- फैसला नही हो पा रहा है साहब.. कि ये रात तन्हा है… या मैं…!! ————————————————- कितनी रातों का लहु पी के निखरती है गजल, कैसे लिखते है हम असर तुझे क्या मालूम…!! ————————————————- तुझको लेकर मेरा ‪ख्याल‬ नहीं ‪बदलेगा‬, ‪साल‬ बदलेगा, मगर ‪दिल‬ का ‪हाल‬ नहीं […]

खता उसकी भी नही यारो वो भी क्या करती…

खता उसकी भी नही यारो वो भी क्या करती, हजारो चाहने वाले थे किस किस से वफ़ा करती…!! ————————————————————- हमने सिर्फ अपने आंसूऒ की वजह लिखी है, पता नहीं लोग क्यों कहते है.. वाह क्या शायरी लिखी है…!! ————————————————————- पहचान से मिला काम बहुत कम समय तक टिकता है, लेकिन ‘काम’ से मिली पहचान उम्र भर कायम रहती है..!! ————————————————————- […]

किसी को चाहने से मुहब्बत नहीं होती…

किसी को चाहने से मुहब्बत नहीं होती… उसे पाने से मुहब्बत नहीं होती, महोब्बत तो वो अजीब चीज हैं… जो किसी से हो जाये तो फिर और किसी से नहीं होती…!! ——————————————————————————— हजारो ने दिल हारे है तेरी सूरत  देखकर, कौन कहता है तस्वीर जूआँ नही खेलती…!! ——————————————————————————— दो हिस्सों में बंट गए है मेरे दिल के तमाम अरमान कुछ […]

जब तू साथ नहीं तो तेरी यादें क्यों…

जब तू साथ नहीं तो तेरी यादें क्यों… यूँ ना खींच अपनी तरफ मुझे बेबस कर के… ऐसा ना हो के खुद से भी बिछड़ जाऊं और तू भी ना मिले…!! ये दुनिया वाले भी बडे अजीब है… दर्द आँखो से निकले तो कायर कहते हैं और बातों से निकले तो शायर कहते है…!! वो कहतें हैं , बहुत मजबूरियाँ हैं […]

बस एक भूलने का हुनर ही तो नहीं आता

बस एक भूलने का हुनर ही तो नहीं आता .. वरना भूलना तो हम भी बहुत कुछ चाहते है….!!! ये मत समझ तेरे काबिल नहीं है हम…|| तड़प रही है वो अब भी जिसे हासिल नहीं हैं हम ….!! उम्र कैद की तरह होते हे कुछ रिश्ते ,, जहा जमानत देकर भी रिहाई मुमकिन नही…!! मुझसे मत पुछा कर ठिकाना […]

कोई शाम आती है तुम्हारी याद लेकर, कोई शाम जाती है तुम्हारी याद देकर

Koi sham aati hai tumhari yaad lekar, Koi sham jati hai tumari yaad dekar, Mujhe tho us sham ka intezar hai, jo aaye tume saath lekar…!! ——————————————————– Dil Ki Nazuk Dhadkano Ko Mere Sanam Tumne Dhadakna Sikha Diya Jab Se Mila Hai Tera Pyaar Dil Ko Gum Me Bhi Muskurana Sikha Diya…!! ——————————————————– tere chehre ne kuch aisa gazab dhaya […]

जाम पे जाम पीने से क्या फायदा, रात गुजरी तो उतर जाएगी

Jaam pe jaam peene se kya fayeda, Raat guzri to utar jayegi, Kisi ki aankhon se peeyo khuda ki kasam, Umr saari nashe mein guzar jayegi…!! —————————————————————- Woh Zindagi hi kya jisme Mohabbat nahi, Woh Mohabbat hi kya jisme Yaadein nahi, Woh Yaadein kya jisme Tum nahi, Aur woh Tum hi kya jiske saath Hum nahi…!! —————————————————————- Humne socha tha […]