कोरोना वायरस हेल्‍पलाइन नंबर और एडवाइजरी जारी की
भारत ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए एडवाइजरी जारी कर दी है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने कहा कि कोरोना वायरस की जांच के लिए 5 लैब बनाई गई हैं और 5 अभी बनाई जाएंगी। इन लैब्‍स में विशेषज्ञ चिकित्‍सकों की तैनाती की गई है जो जांच करेंगे। इसके अलावा हेल्‍पलाइन नंबर (+91)11-23978046 भी जारी किया गया है। जिस पर कोई भी व्‍यक्ति कभी भी कॉल करके अपनी पीड़ा बता सकता है उसे तत्‍काल चिकित्‍सीय सुविधा उपलब्‍ध कराई जाएगी।

कोरोना वायरस : हेल्‍पलाइन नंबर पर तकलीफ बताइये तुरंत आएगी मेडिकल टीम एडवाइजरी जारी
दुनियाभर में कोरोना वायरस से लोग खौफजदा हैं। यह ऐसा वायरस है जिसकी सही दवा अब तक नहीं खोजी जा सकी है। चीन के वुहान शहर से फैलना शुरू हुआ यह वायरस दुनिया के करीब 20 देशों में पहुंच चुका है। भारत में भी इस वायरस से ग्रसित संदिग्‍ध लोगों की संख्‍या में लगातार इजाफा हो रहा है। इस वायरस से निपटने के लिए सरकार ने हेल्‍पलाइन नंबर जारी किया है।

चीन से फैला कोरोना वायरस

चीन के वुहान शहर की सीफूड मार्केट से फैले खतरनाक कोरोना वायरस ने अब चीन के हुबेई और वुहान प्रांत के 106 लोगों की जान ले चुका है। चीन में अब तक 4515 लोग कोरोना वायरस की चपेट में पाए गए हैं। इन सभी लोगों के लिए चीन में एक सप्‍ताह के अंदर बनाए गए स्‍पेशल हॉस्पिटल में इलाज शुरू किया जा चुका है। चीन ने अपने प्रभावित प्रांतों की सीमाओं को लॉक कर दिया है। यहां के लोगों पर कहीं भी आने जाने की पाबंदी लगा दी गई है।

दुनियाभर के दर्जन भर देश में पसरा
सीएनएन के मुताबिक चीन के बाद सबसे ज्‍यादा हांगकांग और थाइलैंड के लोग कोरोना वायरस से ग्रसित पाए गए हैं। दोनों देशों में 8-8 लोग इस वायरस से ग्रसित हैं। खतरनाक वायरस से ग्रसित देशों की सूची में ऑस्‍ट्रेलिया, मकाऊ, सिंगापुर और यूनाइटेड स्‍टेट में क्रमशा 5-5 मरीज पाए गए हैं। इसके अलावा ताइवान, फ्रांस, जापान, मलेशिया, साउथ कोरिया में 4-4 मरीज मिले हैं। अब तक कुल 4577 लोग इस वायरस से ग्रसित पाए गए हैं।

तड़पकर मर जाता है बीमार शख्‍स
चिकित्‍सकों के मुताबिक यह वायरस संक्रमित व्‍यक्ति के श्‍वसन तंत्र को कुछ ही घंटों में ठप कर उसकी जान ले लेता है। इस वायरस की वजह से सांस लेने में तकलीफ और निमोनिया के लक्षण पैदा होने लगते हैं। इसकी चपेट में आया व्‍यक्ति बुखार, बदन दर्द और सीने में तकलीफ, नाक बहने की समस्‍या से गुजरता है।

>WHO ने कहा चीन में आपातकाल

WHO के डायरेक्‍टर डॉक्टर टेड्रोस एडहानोम गेब्रेयेसुस ने कोरोना वायरस को बेहद खतरनाक बताते हुए चीन को आपात स्थिति में करार दिया है। उनके मुताबिक इस वायरस की चपेट में आने वाला व्‍यक्ति शुरुआत बुखार और जुकाम के लक्षणों से ग्रसित होता है। इसके बाद नाक बहना, सूखी खांसी, बदन दर्द, सीने में जकड़न, सांस लेने में मुश्किल होने लगती है। इस वायरस की चपेट में आने वाले मरीज का फेफड़ा और किडनी कुछ ही देर में फेल हो जाते हैं।

FOR Whatsapp Status | whatsapp status in Hindi visit our website’s other pages.
http://www.whatsappshayari.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *