Dard Shayari|Status in Hindi

तेरे सिवा कोई भी नाम पसंन्द नही दिल को, कुछ इस तरह से कब्जा किया है अदाओं ने तेरी…!! ———————————————————– इंसान सबसे सस्ता मोहब्बत के नाम पर बिकता है, और सबसे महँगी उसे मोहब्बत ही पड़ती है…!! ———————————————————– तुम हुस्न हो तुम्हारी फिक्र हर किसी को होगी, हम आशिक हैं अपना ख्याल खुद ही रखते हैं…!! ———————————————————– रखते है ख्याल […]

Deshbhakti Whatsapp Shayari

जश्न आज़ादी का मुबारक हो देश वालो को, फंदे से मोहब्बत थी हम वतन के मतवालो को…!! दे सलामी इस तिरंगे को जिस से तेरी शान हैं, सर हमेशा ऊँचा रखना इसका जब तक दिल में जान हैं…!! ये बात हवाओं को बताये रखना, रौशनी होगी बस चिरागों को जलाये रखना, लहू देकर जिसकी हिफाज़त हमने की, ऐसे तिरंगे को […]

Whatsapp Shayari | Republic Day Wishes in Hindi

ना सरकार मेरी है, ना रौब मेरा है, ना बड़ा सा नाम मेरा है, मुझे तो एक छोटी सी बात का गर्व हैं, मैं “हिन्दुस्तान” का हूँ और “हिन्दुस्तान” मेरा है…!! ——————————————————— इस दिन के लिए वीरो ने अपना खून बहाया है, झूम उठो देशवासियों गणतंत्र दिवस फिर आया है। ——————————————————— इतना ही कहना काफी नही भारत हमारा मान है, […]

Whatsapp Shayari | Motivational Shayari

जहाँ प्रयत्नों की ऊंचाई अधिक होती है, वहाँ नसीबों को भी झुकना पड़ता है…!! ————————————————– सत्य को कहने के लिए किसी शपथ की जरूरत नहीं होती, नदियों को बहने के लिए किसी पथ की जरूरत नहीं होती, जो बढ़ते हैं जमाने में अपने मजबूत इरादों पर, उन्हें अपनी मंजिल पाने के लिए किसी रथ की जरूरत नहीं होती…!! ————————————————– शायरी […]

FaceBook status | Whatsapp Status

तेरे सिंगार मे शामिल हो मेरा भी हिस्सा, तेरे चेहरे पर मैं कहीँ तिल हो जाऊँ…!! ————————————————— दिल तोड़ने में उन्होंने डिग्रियां हासिल कर ली, कमबख्त हम ही अनपढ़ रह गए…!! ————————————————— बस एक तुम को अगर चुरा लूँ मैं, तो सारा जमाना गरीब हो जाये…!! ————————————————— तुमने कोशिश ही नहीं की, वरना करीब तो चाँद भी आ जाता है…..!! […]

Facebook Shayari Funny | Dard Shayari

हजारों चेहरों में एक तुम ही पर मर मिटे थे.. वरना, ना चाहतों की कमी थी और ना चाहने वालों की…!! ————————————– सज़ा देनी हमको भी आती हे ओ बेखबर, पर तू तकलीफ से गुजरे ये हमे गवारा नही…!! ————————————– न जाने किस मिट्टी को मेरे वज़ूद की ख्वाहिश थी, मैं इतना बना तो न था जितना मिटा दिया गया […]